VENTURE FUND

विशेषज्ञ पैनल

श्री हर्केष मित्तल

राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान (1981) और भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) अहमदाबाद (1984) के पूर्व छात्र श्री हर्केष मित्तल ने साधारण ग्रामीण उद्योगों से लेकर उच्च प्रौद्योगिकीय उद्यमों तक भारतीय उद्यमियों एक बड़े भाग  के बीच नवोन्मेष और उद्यमशील विलक्षणता को बढ़ावा देने के लिए एक नई जीवंतता प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

View More

 

 

 

श्री किरण कार्निक

किरण कार्निक सूचना एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अपने काम के लिए व्यापक रूप से जाने जाते हैं, वे 2001 से 2008 तक नैसकॉम के अध्यक्ष रहे और इतिहास में  भारत की सबसे बड़ी कॉरपोरेट धोखाधड़ी का सामना करने के बाद अपनी सरकार द्वारा नियुक्त निदेशक मंडल के अध्यक्ष के रूप में उन्होंने सत्यम कंप्यूटर्स को वापस अपने ट्रैक पर लाने में मदद की। वे कई प्रमुख सरकारी समितियों में रहे हैं। वे शिक्षा और विकास के क्षेत्र में कई गैर-लाभकारी संगठनों में शामिल है और वे कुछ कंपनियों के बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक के रूप में भी कार्यरत हैं। वे भारतीय रिजर्व बैंक के केंद्रीय बोर्ड में निदेशक है। उन्होंने नैसकॉम और आईटी उद्योग पर एक पुस्तक लिखी है और वे प्रमुख राष्ट्रीय दैनिक समाचार पत्रों में नियमित रूप से लिखते हैं।

View More

 

 

 

डॉ आर वैद्यनाथन

डॉ आर वैद्यनाथन आईआईएम बैंगलौर में वित्त के प्रोफेसर हैं। वे दो बार फुलब्राइट स्कॉलर एवं आईसीएसएस के सम्मानित सदस्य रहे हैं, और संयुक्त राज्य अमेरिका / ब्रिटेन में विभिन्न विश्वविद्यालयों में विजिटिंग फैकल्टी हैं, बिजनेस टुडे ने उन्हें सभी आईआईएम में दस सर्वश्रेष्ठ प्रोफेसरों में से एक के रूप में चयनित किया है। उन्हें सेबी / आरबीआई / आईआरडीए / पीएफआरडीए जैसी सभी वित्तीय विनियामकों की विभिन्न समितियों में होने का दुर्लभ विशेषाधिकार प्राप्त है।

View More

 

 

 

श्री संजीव भिक्खचन्दनानी

श्री संजीव भिक्खचन्दनानी नौकरी,कॉम (इंफो एज (इंडिया) लिमिटेड) के  संस्थापक और  कार्यकारी उपाध्यक्ष है। उन्होंने लिंटास इंडिया लिमिटेड में विज्ञापन, एचएमएम में विपणन स्थिति और स्मिथक्लाइन बीचम में विपणन में काम किया। वे नवोन्मेषी, संपोषण और उद्यमिता (सीआईआईई, अहमदाबाद)केंद्र के निदेशक मंडल के एक सदस्य के रूप में कार्यरत हैं।

View More

 

 

 

श्री सौरभ श्रीवास्तव

श्री सौरभ श्रीवास्तव कई सफल सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों के संस्थापक हैं, जो शीर्ष 20 भारतीय सॉफ्टवेयर कंपनियों की श्रेणी में से एक हैं। वे नैसकॉम और नैसकॉम फाउंडेशन, सह-संस्थापक एवं पूर्व अध्यक्ष हैं, भारतीय उद्यम पूँजी एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष, टाई दिल्ली-एनसीआर के अवकाश प्राप्त अध्यक्ष(टाई के वैश्विक बोर्ड पर थे)और  फिक्की की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति के अध्यक्ष थे। उन्होंने निजी क्षेत्र में भारत की पहली उद्यम निधि इन्फिनिटी (जिसने इंडिया बुल्स और एवेंडस बनाने में मदद की) और इंडियन एंजल नेटवर्क (अब संभवतः दुनिया के सबसे बड़े एंजेल समूह) की स्थापना की। उन्होंने 50 से अधिक प्रारंभिक उद्यमों को विभूषित किया और ब्रिटेन, सिंगापुर तथा  अब वे भारत में यस बैंक, नौकरी.कॉम, एक्सचेंजिंग पीएलसी जैसी निजी और सार्वजनिक दोनों प्रकार की सूचीबद्ध कंपनियों के बोर्ड में एक गैर-कार्यकारी निदेशक हैं।

View More

 

 

 

श्री टी वी मोहनदास पई

 श्री टी वी मोहनदास पई मणिपाल ग्लोबल एजुकेशन सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष हैं। आरिन कैपिटल पार्टनर्स के अध्यक्ष और एक्सफिनिटि प्रौद्योगिकी कोष 1 के  संस्थापक हैं। इससे पहले वे सीएफओ और इन्फोसिस लिमिटेड के सीएफओ और बोर्ड के सदस्य थे। वे शिक्षा, कराधान, सूचना प्रौद्योगिकी, परिवहन आदि क्षेत्रों में कई सरकारी समितियों का एक हिस्सा रहे हैं। वे भारत के सनदी लेखाकार संस्थान के सम्मानित सदस्य हैं और वाणिज्य और विधि (एलएलबी) में स्नातक की डिग्री हासिल की है। श्री मोहनदास पई को अप्रैल 2015 में भारत सरकार द्वारा 'पद्म श्री' से सम्मानित किया गया।